बांग्लादेशियों के बाद रोहिंग्या घुसपैठिए

भारत में बांग्लादेशी घुसपैठियों की समस्या सुलझी नहीं है मगर अब रोहिंग्या मुस्लिमों का मुद्दा उभर रहा है। कुछ समय पहले गृह मंत्रालय के वरिष्ठ अफसरों के मुताबिक फॉरनर्स ऐक्ट के तहत इन लोगों की पहचान कर इन्हें वापस भेजा जाएगा। बौद्ध बहुल देश म्यामांर में जारी हिंसा के बाद से अब तक करीब 40,000 रोहिंग्या मुस्लिम भारत में आकर शरण ले चुके हैं। ये लोग समुद्र, बांग्लादेश और म्यामांर सीमा से लगे चिन इलाके के जरिए भारत में घुसपैठ करते हैं। अनुमान है कि रोहिंग्या शरणार्थी असम, पश्चिम बंगाल, केरल, आंध्र प्रदेश, उत्तर प्रदेश, दिल्ली और जम्मू-कश्मीर सहित भारत के विभिन्न हिस्सों में रह रहे हैं। अकेले जम्मू में ही 6000 की संख्या में रोहिंग्या शरणार्थी बसे हुए हैं।