प्रो. प्रेम शंकर तिवारी

प्रोफेसर तिवारी पर हुए हमले के 25 दिन बीत जाने के बावजूद अभी पुलिस कोई गिरफ्तारी नही कर पाई है। दरअसल नकल माफियाओं व उनसे जुड़े शिक्षकों ने इस हमले को पूरी योजना को बेहद शातिर तरीके से अंजाम दिया है। प्रथम प्रवक्ता को सूत्रो से मिली जानकारी के अनुसार इस बर्बर जानलेवा हमले को अंजाम देने में कॉलेज के प्रोफेसर पुष्पेन्द्र सिंह व उसके करीबी 2-3 शिक्षको का हाथ है।